latest government job notification 2020

Latest Government Job Notification 2020 | All Government Job Notification of UPSC, UPPSC, SSC, MPPSC, CGPSC, BPSC, banking railway Job Latest Vacancies News updates Bumper Recruitment Notification for Teaching Job / engineering and Diploma Holder All Academic News Update of Uttar pradesh and all other Update only on Upjob.in
All latest Government Job Notification of this week with official notification PDF link , website , posts Name, No of vacancies  , eligibility criteria, and education qualification  details Government Job vacancies news Updates

SSC Exam Time Table Calendar Recruitment Dates 2020

UPSC Exam Calendar Time Table in Hindi 2020

UPPSC Exam Calendar 2020 Dates Job

UP Subordinate service Recruitment 2020

Tnpsc Exam calendar Job Notification 2020

Mppsc exam time table 2020 Date Sheet

Uttarakhand lok Sewa Ayog Examination Calendar 2020

JPSC Jharkhand Exam Calendar Time Table Job
All Government Job Updated at One Click More then 5000+ Vacancies 2020
SSC Recruitment Notification…

Latest GK for Upcoming SSC CGL Examination 2017 in Hindi

Free study Material for Coming Combined Graduate level Preliminary examination 2016 Hindi Noted for General awareness General study GS Download Important General Knowledge and Latest Current affairs in Hindi for Upcoming Civil services competitive examination of UPSC 

1) देश में सुस्तचाल चल रही राजमार्ग परियोजनाओं (Highway Projects) को तेज रफ्तार प्रदान करने की मंशा से केन्द्र सरकार ने 27 जनवरी 2016 को राजमार्ग निर्माण के किस नए मॉडल को अपनाने को अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी जिसके तहत केन्द्र सरकार परियोजना लागत का 40% हिस्सा डेवलपर (developer) को उपलब्ध करा देगा? – “हाइब्रिड एन्युटी मॉडल”
विस्तार: 27 जनवरी 2016 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता वाली आर्थिक मामलों पर गठित कैबिनेट समिति (CCEA) ने राजमार्ग निर्माण के लिए “हाइब्रिड एन्युटी मॉडल” (‘Hybrid Annuity Model’) को एक उपलब्ध विकल्प के तौर पर अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी।
इस नए मॉडल के तहत केन्द्र सरकार प्रस्तावित राजमार्ग परियोजना की लागत की 40% राशि परियोजना का निर्माण करने वाले डेवलपर को उपलब्ध करा देगी जबकि शेष 60% खर्च का वहन डेवलपर को स्वयं करना होगा।
इस मॉडल के द्वारा देश में राजमार्गों को विकसित करने का एक नया मॉडल उपलब्ध हो जायेगा। माना जा रहा है कि इस मॉडल को अपनाकर राजमार्ग निर्माण की रफ्तार को तेज किया जा सकेगा। ऐसा इसलिए है क्योंकि “हाइब्रिड एन्युटी मॉडल” से राजमार्ग परियोजना में शामिल सभी हिस्सेदारों – निर्माण प्राधिकरण (Authority), ऋण-प्रदत्ता (lender) तथा डेवलपर्स (developers) के अपेक्षाकृत अधिक संतुष्ट रहने की संभावना व्यक्त की जा रही है।
Corruption-India-2016
2) वैश्विक भ्रष्टाचार (global corruption) पर निगरानी रखने वाली अंतर्राष्ट्रीय संस्था बर्लिन-स्थित ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (Transparency International – TI) द्वारा 27 जनवरी 2016 को जारी नवीनतम भ्रष्टाचार परसेप्शन सूचकांक (Corruption Perception Index) में भारत को कुल 168 देशों में क्या स्थान प्रदान किया गया है? – 76वाँ
विस्तार: इस संगठन द्वारा 27 जनवरी को जारी भ्रष्टाचार परसेप्शन सूचकांक (CPI) में भारत का स्थान जहाँ सूचकांक में शामिल 168 देशों में 76वाँ है वहीं उसे कुल 100 में से 38 अंक प्रदान किए गए हैं। अंकों के लिहाज से भारत अब भी उसी स्थान पर है जहाँ वह पिछले वर्ष के सूचकांक पर था।
भारत के साथ जिन 5 अन्य देशों को रखा गया है वह हैं – ब्राज़ील, बुरकीना फासो, थाईलैण्ड, ट्यूनीशिया और जम्बिया। वहीं इस सूचकांक में चीन (China) का स्थान 83वाँ हैं तथा उसे कुल 37 अंक प्रदान किए गए हैं।
ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (TI) ने इस सूचकांक को जारी करते यह तथ्य भी उजागर लिया कि कि दक्षेस (SAARC) देशों में पाकिस्तान (Pakistan) ही एकमात्र देश है जहाँ भ्रष्टाचार की स्थिति में कुछ सुधार हुआ है, हालांकि उसका वैश्विक स्थान अभी भी काफी खराब 117वाँ है।
इस सूची में पहले स्थान पर डेनमार्क (Denmark) को रखा गया है तथा इसके बाद दो और नॉर्डिक देशों फिनलैण्ड (Finland) और स्वीडन (Sweden) को रखा गया है। जहाँ तक सबसे अधिक भ्रष्टाचार की बात है तो सूचकांक में यह स्थान अफ्रीकी देश सोमालिया (Somalia) को प्रदान किया गया है। इसके बाद क्रमश: उत्तर कोरिया (North Korea) और अफगानिस्तान (Afghanistan) का स्थान है।
Apple-Logo-2016
3) अमेरिका की दिग्गज टेक्नोलॉजी कम्पनी एप्पल (Apple Inc.) द्वारा 26 जनवरी 2016 को की गई वित्तीय भविष्यवाणी (forecasts) से क्या अत्यंत महत्वपूर्ण तथ्य सामने आया? – इस भविष्यवाणी के अनुसार कम्पनी के राजस्व में 13 वर्षों में पहली बार कमी दर्ज की जा सकती है
विस्तार: एप्पल (Apple) द्वारा 26 जनवरी को की गई वित्तीय भविष्यवाणी के अनुसार इस बार कम्पनी के राजस्व में कमी आ सकती है तथा यदि यह सही होता है तो पिछले 13 वर्षों में यह पहला मौका होगा जब कम्पनी का राजस्व कम होगा। इसका मुख्य कारण कम्पनी के सर्वप्रमुख उत्पाद आईफोन (iPhone) की बिक्री में बेहद कम वृद्धि दर्ज होना है जबकि iPhone के सबसे प्रमुख बाजार के रूप में उभरे चीन (China) में मांग लगातार घट रही है।
इस भविष्यवाणी से यह भी स्पष्ट हो गया कि कम्पनी के शानदार प्रदर्शन का युग संभवत: अपनी समाप्ति की ओर है।
एप्पल के संभावित नतीजों में गिरावट के पीछे वॉल स्ट्रीट (Wall Street) के तमाम विश्लेषकों ने यह भी स्पष्ट किया कि एप्पल के पास संभवत: iPhone की बराबरी करने वाला और कोई उत्पाद मौजूद नहीं है।
4) भारत 26 जनवरी 2016 को उस समय टेस्ट क्रिकेट की आईसीसी रैंकिंग (ICC Test Rankings) में दुनिया का न. 1 देश बन गया जब इस दिन इंग्लैण्ड (England) ने दक्षिण अफ्रीका (South Africa) को उसी की धरती में टेस्ट सीरीज़ में 2-1 से पराजित कर दिया। यह दूसरा मौका था जब भारत को टेस्ट क्रिकेट में यह मुकाम हासिल हुआ हो। ऐसा पहली बार कब हुआ था? – अगस्त 2011 में
विस्तार: अगस्त 2011 में जब भारत को ICC टेस्ट रैंकिंग में दुनिया की न. 1 टीम घोषित किया गया था तब यह भारत के टेस्ट क्रिकेट इतिहास में ऐसा पहला ही मौका था। अब भारत ने पुन: न. 1 टीम बनकर यह मुकाम दूसरी बार हासिल किया। वहीं इस स्थान पर अब तक काबिज दक्षिण अफ्रीका अब तीसरे स्थान पर पहुँच गया है जबकि ऑस्ट्रेलिया अब दूसरे स्थान पर है।
उल्लेखनीय है कि भारत दिसम्बर 2015 के दौरान ICC टेस्ट रैंकिंग में तब दूसरे स्थान पर पहुँच गया था जब उसने घरेलू सीरीज़ में विश्व की न. 1 टीम दक्षिण अफ्रीका को 3-0 से बुरी तरह से पराजित कर दिया था। यह दक्षिण अफ्रीका की पिछले 9 सालों में किसी विदेशी भूमि पर पहली टेस्ट सीरीज़ हार थी।
हालांकि ऑस्ट्रेलिया (Australia) अब टेस्ट क्रिकेट में पहले स्थान पर आने का प्रयास तब कर सकता है जब 12 फरवरी 2016 से वह न्यूज़ीलैण्ड (New Zealand) के खिलाफ दो टेस्ट की ट्रांस-तस्मान ट्रॉफी सीरीज़ खेलेगा।
5) भारत के कौन से तीन संस्थान फाइनेंशियल टाइम्स की वर्ष 2016 की वैश्विक एमबीए रैंकिंग (Financial Times Global MBA Ranking for 2016) में स्थान प्राप्त करने में एक बार पुन: सफल हुए हैं? – आईआईएम (अहमदाबाद), आईआईएम (बेंगलौर) और इण्डियन स्कूल ऑफ बिजनेस (हैदराबाद)
विस्तार: फाइनेंशियल टाइम्स की वैश्विक एमबीए रैंकिंग को विश्व में प्रबन्धन की शिक्षा प्रदान करने वाले संस्थान/ प्रोग्राम की सबसे प्रतिष्ठित रैंकिंग्स में एक एक माना जाता है। 25 जनवरी 2016 को जारी की गई वर्ष 2016 की इस रैंकिंग में सर्वोच्च 100 संस्थानों में भारत के तीन संस्थान शामिल हैं – भारतीय प्रबन्धन संस्थान अहमदाबाद (IIMA), भारतीय प्रबन्धन संस्थान बेंगलौर (IIMB) और इण्डियन स्कूल ऑफ बिजनेस (हैदराबाद) – (ISB)।]


  • UPPSC preparation Study Material strategy Tips and guide
  • UPPSC Lower PCS Interview Questions Tips Tricks Strategy Free Study material online


  • इन तीन संस्थानों की रैंकिंग के बारे में एक और खास बात यह है कि इन तीनों की रैंकिंग में सुधार भी हुआ है। IIM (अहमदाबाद) की रैंकिंग पिछले बार की 26 से दो स्थान उछल कर 24 हुई है, IIM (बेंगलौर) की रैंकिंग पिछले बार की 82 से उछल कर इस बार 62 हुई है जबकि इण्डियन स्कूल ऑफ बिजनेस (हैदराबाद) की रैंकिंग पिछले बार की 33 से चार स्थान उछल कर 29 हो गई है।
    जहाँ तक इस प्रतिष्ठित सूची में पहले स्थान की बात है तो यह रुतबा इस बार फ्रांस के इनसीड (INSEAD) नामक एक वर्ष के प्रबन्धन प्रोग्राम को हासिल हुआ है। इस सूची में पहले स्थान पर आकर INSEAD ने कुछ अत्यंत प्रतिष्ठित संस्थानों की बराबरी कर ली है जैसे हार्वर्ड (Harvard) स्कूल ऑफ बिजनेस, लंदन बिजनेस स्कूल (LBS), वार्टन (Wharton) स्कूल और स्टैनफोर्ड (Stanford) ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस। INSEAD से जुड़ी एक खास बात यह भी है कि इसकी फीस अमेरिका के चोटी के तीन मैनेजमेण्ट स्कूल्स के मुकाबले काफी कम है।
    वहीं रेनमिन यूनीवर्सिटी ऑफ चाइना स्कूल ऑफ बिजनेस (Renmin University of China School of Business) का मैनेजमेण्ट प्रोग्राम इस सूची में पहली बार शामिल हुआ है तथा पहली बार ही इसे 43वाँ स्थान हासिल हो गया है।
    1) भारत ने अपना 67वाँ गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 2016 को धूमधाम से मनाया। इस अवसर पर मुख्य कार्यक्रम राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली के सजीले राजपथ (Rajpath) पर शानदार परेड के रूप में आयोजित किया गया जिसमें भारत ने अपनी सैन्य शक्ति तथा समृद्ध सांस्कृतिक विरासत का दर्शन कराया। इस वार्षिक आयोजन में मुख्य अतिथि कौन रहा? – फ्रांसवां ओलांद (फ्रांसीसी राष्ट्रपति)
    विस्तार: फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांसवां ओलांद (Francois Hollande) राष्ट्र के 67वें गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि बने। वे राष्ट्रपति डॉ. प्रणव मुखर्जी के साथ आयोजन स्थल राजपथ पहुँचे। इस समारोह में भारत ने अपनी सैन्य शक्ति तथा विविधता वाली समृद्ध संस्कृति का बेजोड़ प्रदर्शन किया। सेना के तीनों बलों के अलावा तमाम अर्द्ध-सैनिक बलों ने जहाँ अपनी ताकात का शानदार प्रदर्शन किया वहीं राज्यों तथा सरकारी विभागों ने अपनी झाँकियों के द्वारा भारत की सांस्कृतिक विरासत के दर्शन कराए।
    इस बार की गणतंत्र दिवस परेड की एक बड़ी खासियत रही इसमें 76-सदस्यीय फ्रांसीसी सेना की एक टुकड़ी की प्रतिभागिता। इस टुकड़ी में 48 वादक भी शामिल थे तथा इसने अन्य टुकड़ियों की भांति राजपथ से गुजरते हुए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को सलामी दी। फ्रांसीसी राष्ट्रपति ओलांद के मुख्य अतिथि बनने के चलते वर्ष 1604 में स्थापित 35वीं इन्फेंट्री रेजीमेण्ट की इस टुकड़ी ने परेड में भाग लिया।
    Lance-Naik-Mohan-Nath-Goswami-2016


  • Civil Service Exam Interview Preparation Guide in Hindi Advice


  • 2) 67वें गणतंत्र दिवस पर 26 जनवरी 2016 को किसे शांतिकाल के सर्वोच्च वीरता सम्मान अशोक चक्र (Ashok Chakra) से सम्मानित किया गया? – लांस नायक मोहन नाथ गोस्वामी (मरणोपरांत)
    विस्तार: भारतीय थलसेना के 9 पैरा (विशेष बल)/राष्ट्रीय राइफल्स की छठवीं बटालियन से सम्बद्ध लांस नायक मोहन नाथ गोस्वामी को सितम्बर 2015 के दौरान जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ अद्वितीय पराक्रम का प्रदर्शन करते हुए अपने प्राण न्यौछावर करने के कारण अशोक चक्र प्रदान किया।
    मोहन नाथ गोस्वामी सेना की उस टुकड़ी में शामिल थे जिसने सितम्बर 2015 में जम्मू-कश्मीर राज्य के कुपवाड़ा जिले के एक वन क्षेत्र में चार दुर्दान्त आतंकियों से मुठभेड़ की थी। उन्होंने इस आतंकी हमले में न सिर्फ दो आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया बल्कि दो को धराशाई करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई । इसके अलावा उन्होंने अपने साथियों की जान बचाने में भी अपनी भूमिका निभाई। उनको यह सम्मान प्रदान करने की घोषणा गणतंत्र दिवस की पूर्वसंध्या पर 25 जनवरी को की गई जबकि उनका यह मरणोपरांत सम्मान 26 जनवरी की गणतंत्र दिवस परेड के पूर्व उनकी पत्नी ने प्राप्त किया।
    अशोक चक्र के अलावा केन्द्र सरकार ने चार कीर्ति चक्र (Kirti Chakra) और 11 शौर्य चक्र प्रदान करने की घोषणा भी की।
    Padma-Vibhushan-2016



    3) 67वें गणतंत्र दिवस की पूर्वसंध्या पर 25 जनवरी 2016 को केन्द्र सरकार ने कुल 112 हस्तियों को पद्म पुरस्कार प्रदान करने की घोषणा की। इन सम्मानों के तहत कुल कितनी हस्तियों को पद्म विभूषण (Padma Vibhushan) पुरस्कार प्रदान करने की घोषणा की गई, जोकि भारत का दूसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान है? – दस (10)
    विस्तार: इस वर्ष प्रदान किए जाने वाले 112 पद्म पुरस्कारों में कुल दस (10) पद्म विभूषण (Padma Vibhushan), 19 पद्म भूषण (Padma Bhushan) तथा 83 पद्मश्री (Padma Shri) सम्मान प्रदान किए जा रहे हैं।
    दस हस्तियाँ जिन्हें भारत के दूसरे सबसे बड़े नागरिक सम्मान – पद्म विभूषण के लिए चयनित किया गया है, हैं – श्रीश्री रविशंकर (आध्यात्मिक गुरु), जगमोहन (पूर्व नौकरशाह तथा राजनीतिज्ञ), डॉ. वी. शांता (सुप्रसिद्ध कैंसर विशेषज्ञा), अविनाश दीक्षित (अर्थशास्त्री एवं लेखक), रामोजी राव (मीडिया उद्यमी), रजनीकांत (अभिनेता), दिवंगत धीरूभाई अम्बानी (उद्यमी), वी.के. आत्रे (डीआरडीओ के पूर्व अध्यक्ष), गिरिजा देवी (शास्त्रीय गायिका) और यामिनी कृष्णमूर्ति (भरतनाट्यम व कुचीपुडी नृत्यांगना)।
    4) अनूसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (SC/STs) से आने वाले नागरिकों के खिलाफ होने वाली अत्याचार की घटनाओं से अधिक तत्परता से निपटने के उद्देश्य से केन्द्र सरकार ने 26 जनवरी 2016 से एक नए कानून (New Act) को लागू कर दिया। इन नए कानून का नाम क्या है? – अनूसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (अत्याचार उन्मूलन) संशोधन कानून, 2015
    विस्तार: अनूसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (अत्याचार उन्मूलन) संशोधन कानून, 2015 (Scheduled Castes and the Scheduled Tribes (Prevention of Atrocities) Amendment Act, 2015) नामक यह कानून इस उद्देश्य से तैयार किया गया है ताकि इन समुदाय के लोगों के आत्मसम्मान को गिराने वालीं घटनाओं जैसे उनके सामाजिक बहिष्कार या आर्थिक बहिष्कार करने पर प्रभावी तरीके से रोक लगाई जा सके।
    इस कानून को राज्य सभा ने 21 दिसम्बर 2015 को पारित किया था जबकि लोकसभा इसे 4 अगस्त 2015 को ही अपनी स्वीकृति प्रदान कर चुकी थी। अब इस कानून को 26 जनवरी 2016 से लागू भी कर दिया गया है।
    इस कानून के तहत ऐसे अनूसूचित जाति (Scheduled Caste) व अनुसूचित जनजाति (Scheduled Tribe) से सम्बद्ध लोगों के आत्मसम्मान को गिराने वाले कृत्यों जैसे उनका सर मुँडवाना, उन्हें चप्पलों की मालाएं पहनाना, उनसे जबरन मनुष्य अथवा जानवर के मृत शरीर को उठवाना, जबरन कब्र खुदवाना, अथवा किसी अन्य प्रकार बेज्जती करने को दण्डनीय अपराध माना जायेगा।


  • UPPSC PCS Exam Interview Questions Preparation Guide
  • SSC CGL Exam Notification Graduate Level Application Form 2017


  • 5) भारत और फ्रांस का उद्योग सम्मेलन (India-France Business Summit) 24 जनवरी 2016 को किस शहर में आयोजित हुआ था जिसमें दोनों देशों के मध्य 16 समझौतों पर सहमति हुई थी? – चण्डीगढ़
    विस्तार: चण्डीगढ़ (Chandigarh) में 24 जनवरी को आयोजित भारत-फ्रांस उद्योग सम्मेलन (India-France Business Summit) का आयोजन किया गया। इसमें भारत की आधिकारिक यात्रा पर आए फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांसिस ओलांद तथा भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाग लिया।
    Tabla-Maestro-2016


  • UPPSC JE Junior Engineer Exam 2017
  • UPPSC kanungo model paper | Previous Year Question Paper Hindi
  • UPPSC Kanungo Exam Expected Cutoff marks 2017


  • 6) जनवरी 2016 के दौरान 80 वर्ष की आयु में दिवंगत हुए शास्त्रीय वादक शंकर घोष (Shankar Ghosh) का सम्बन्ध किस वाद्ययंत्र (instrument) से था? – तबला (Tabla)
    विस्तार: शंकर घोष एक मशहूर तबला-वादक थे तथा उनका सम्बन्ध फर्रुखाबाद के हिन्दुस्तानी शास्त्रीय घराने से था।
    उन्होंने एकल वादक अथवा प. रविशंकर और उस्ताद विलायत खान जैसे मशहूर सितार-वादकों अथवा प. वीजी जोग जैसे वायलिन वादकों के साथ तमाम देशों में अपने तबला वादन का प्रदर्शन किया था लोगों की भरपूर वाहवाही हासिल की थी।
    उनकी पत्नी संजुक्ता घोष (Sanjukta Ghosh) भी हिन्दुस्तानी शास्त्रीय शैली के पटियाला घराने की प्रसिद्ध गायिका हैं।

    Comments

    Popular posts from this blog

    309 UP BEO Khand Siksha Adhikari Job Notification UPPSC 2019

    D.el.Ed Book Syllabus Free study Material Download UP BTC

    UP Leave Online Application Form Manav Sampada CL, CCL, MTL, Medical Primary School