Government Job Exam News

Wednesday, 18 September 2019

यूपी प्रेरणा ऐप प्राइमरी स्कूल टीचर अटेंडेंस यूजर मैनुअल डाउनलोड

डाउनलोड हिंदी प्रेरणा उत्तर प्रदेश  | प्राइमरी स्कूल डाउनलोड यूपी प्रेरणा एंड्राइड मोबाइल ऐप | फोन गूगल प्ले स्टोर  | बेसिक शिक्षा परिषद टीचर अटेंडेंस
उत्तर प्रदेश सरकार बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों के निरीक्षण के लिए बहुप्रतीक्षित निरीक्षण प्रेरणा ऐप लांच कर दिया गया है। प्रेरणा मोबाइल ऐप 5 सितंबर 2019 को मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश के द्वारा लॉन्च किया गया है। इस ऐप के माध्यम से सभी शिक्षकों, छात्रों, एमडीएम, मिड डे मील, कायाकल्प योजना के अंतर्गत कराए जाने वाले विभिन्न कार्य का सेल्फी के माध्यम से निरीक्षण किया जाएगा।  प्रेरणा ऐप सभी शिक्षक गूगल के प्ले स्टोर पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं। 
गूगल पर प्ले स्टोर पर प्रेरणा ऐप डाउनलोड करने के लिए आपको प्रेरणा उत्तर प्रदेश पर क्लिक करना होता है, उसके पश्चात प्रेरणा ऐप खुल जाता है। 

प्रेरणा ऐप से संबंधित महत्वपूर्ण सवालों के उत्तर 

प्रेरणा एप को कैसे अपने फोन में इंस्टॉल करें 
प्रेरणा मोबाइल एप का उपयोग करने के लिए सबसे पहले सभी शिक्षकों,   हेड मास्टर, इंचार्ज प्रधानाध्यापक, शिक्षामित्र, अनुदेशक इत्यादि को एंड्राइड फोन के  प्ले स्टोर पर जाना होगा। 
वहां पर "PRERNA UTTAR PRADESH"   डालना होगा जिसमें दो प्रेरणा ऐप दिखेंगे, पहला एससीईआरटी का प्रेरणा ऐप है, और जबकि दूसरा प्रेरणा उत्तर प्रदेश टेक्नोसिस सर्विसेस प्राइवेट लिमिटेड (TECHNOSYS SERVICES PVT LTD) के द्वारा डिवेलप किया गया है, तो आपको प्रेरणा उत्तर प्रदेश टेक्नोसिस सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड उत्तर प्रदेश वाला ऐप डाउनलोड करना है। जैसे ही आप इस ऐप को डाउनलोड करेंगे तो यह आपके फोन में इंस्टॉल हो जाएगा। 
इस ऐप को विद्यालय के सभी शिक्षकों को डाउनलोड करना अनिवार्य है, जिसके अंतर्गत शिक्षामित्र, अनुदेशक, सहायक अध्यापक, प्रधानाध्यापक व अन्य शैक्षणिक स्टाफ को भी प्रेरणा डाउनलोड करना है। 
प्रेरणा के माध्यम से सभी टीचिंग पैरा टीचर की उपस्थिति इस ऐप के माध्यम से जाएगी। 
प्राइमरी और अपर प्राइमरी दोनों स्कूल को यह ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य है। इस ऐप के माध्यम से बेसिक शिक्षा परिषद के द्वारा संचालित परिषदीय प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों की शिक्षकों, मिड डे मील और अन्य गतिविधियों की सेल्फी ली जाएगी। कायाकल्प योजना के तहत कराए जा रहे कार्यों का भी निरीक्षण के माध्यम से किया जाएगा। 

प्रेरणा एप डाउनलोड करने के बाद क्या करना होगा 
सभी शैक्षणिक और गैर शैक्षणिक कर्मचारियों का मोबाइल नंबर और उनका नाम विद्यालय सहित पहले से ही प्रेरणा है पर फीड किया जा चुका है। आपको बहुत कुछ नहीं करना है, सिर्फ  ऐप पर अपना रजिस्ट्रेशन करना होता है। पंजीकरण सिर्फ आपको पासवर्ड अथवा 4 अंक का पिन बनाने के लिए करना होता है, जैसे ही आप अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर डालेंगे ,आपके फोन पर एक  पासवर्ड मोबाइल पर भेजी जाएगी। इसके द्वारा आप लॉगिन कर सकते हैं। 
लॉग इन करने के पश्चात आपको आपका विद्यालय आपका नाम,  आपका जिला प्रदर्शित होने लगेगा। 
आप सिर्फ अपने पहले से रजिस्टर्ड नंबर के द्वारा ही इस ऐप पर लॉग इन कर सकते हैं। यदि आपका नंबर ऐप में पहले से रजिस्टर्ड नहीं है तो आपको लॉग इन करने की अनुमति इसमें नहीं दी जाएगी। 

प्रेरणा पर कौन-कौन सी सूचनाएं जाएंगी 
फिलहाल अभी इस ऐप के माध्यम से अध्यापक उपस्थिति, प्रार्थना सभा की उपस्थिति, मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत छात्रों की उपस्थिति और कायाकल्प योजना के तहत कराए जाने वाले का कार्य की फोटो इस ऐप के माध्यम से जाएगी। 

हमारे स्कूल में नेटवर्क नहीं आता फिर कैसे सभी सूचनाएं जाएंगे ?
यह ऑफलाइन भी कार्य करता है। ऐप का प्रयोग ऑफलाइन माध्यम से भी कर सकते हैं। सभी फोटो लेने के पश्चात यह अपने आप फोन में सेव हो जाएगी और जैसे ही आप इंटरनेट क्षेत्र में आते हैं, आपका डाटा सिंक हो जाएगा। सिंक से तात्पर्य ऑनलाइन अपलोड हो जाएगा। 

इस ऐप का प्रयोग कैसे करें 
ऐप का प्रयोग करने के लिए सभी हेड मास्टर और सहायक अध्यापक   प्रधानाध्यापक को लॉगइन करना होता है। उसके पश्चात अध्यापक उपस्थिति पर क्लिक करना होता है। जहां पर आप को अपनी फोटो भेजनी होती है। एक टीचर की उपस्थिति एक फोटो के माध्यम से जाएगी। जैसे कि 5 टीचर हैं तो 5 फोटो अलग-अलग जाएंगी। आप अपने फोन से अपनी अपने अलावा अन्य टीचर्स की अटेंडेंस भेज सकते हैं। जैसा कि यदि आप ग्रुप में डालते हैं तो वह सिर्फ एक अटेंडेंस काउंट होगा जो कि जिस अध्यापक के द्वारा भेजा जा रहा है, अतः इस बात का ध्यान रखें। 

क्या होता है जिओ फेंसिंग ?
ऐप का प्रयोग करने से पहले हेड मास्टर को अपने विद्यालय का बाउंड्री निर्धारित करनी होती है। जिसके अंतर्गत आपको अपने बाउंड्री के चारों तरफ चक्कर लगाकर एप्प पर दिखाना  होता है कि आपकी विद्यालय की बाउंड्री कहां से कहां तक है। उसके बाद यह निर्धारित हो जाता है कि आपकी विद्यालय का दायरा कहां है, और उसी दायरे में रहकर सभी शिक्षकों की उपस्थिति एप पर अपलोड होगी। 

यदि मैं समय से विद्यालय नहीं पहुंचता हूं तो क्या होगा ?
अभी हाल ही में बेसिक शिक्षा मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा एक वीडियो में कहा गया कि जो शिक्षक समय से नहीं आएंगे अथवा 3 दिन लगातार अनुपस्थित अथवा समय से लेट होते हैं तो उनको बर्खास्त कर  दिया जाएगा। आप अवश्य समय   का ध्यान रखें। 
सभी शिक्षकों की उपस्थिति दो बार जाएगी। एक स्कूल खोलने से पहले दूसरी स्कूल बंद होने के पश्चात। 
इस दौरान प्रार्थना के समय बच्चों की उपस्थिति और मिड डे मील खाते हुए बच्चों की उपस्थिति की भी फोटो अवश्य जाएगी। 
इसके अतिरिक्त यदि आप विद्यालय में अन्य कोई गतिविधि कराते हैं, तो उसकी भी फोटो अपलोड करना होगा। 
आप इस ऐप में पहले से खींची गई फोटो अपलोड नहीं कर सकते हैं, अर्थात आपकी उपस्थिति आपके ही विद्यालय में उसी समय रियल टाइम खींची जाएगी। 
फोटो लेते समय ध्यान दें की फोटो में सारे अध्यापकों का चेहरा साफ दिखाई देना चाहिए। यदि कोई शिक्षक अब्सेंट है तो उसको इस पर अब्सेंट दिखाना होगा। 

यदि आपके विद्यालय में कोई नया अध्यापक आता है तो उसकी अटेंडेंस कैसे ली जाएगी ?
 इसके लिए आपको प्रोफाइल पर जाकर नया अध्यापक जोड़ना होगा। उसके पश्चात आप नए अध्यापक जोड़ सकते हैं और उसकी अटेंडेंस जाने लगेगी। 

यदि प्रधानाध्यापक किसी कार्य से बाहर जाता है, तब उपस्थिति कैसे जाएगी ?
प्रधानाध्यापक  जिस अध्यापक को अपना कार्यभार देना चाहते हैं, ऐप में जाकर कार्यभार स्थानांतरण पर क्लिक करके उसका नाम चुनना होता उसके बाद किस दिनांक से किस दिनांक तक कार्यभार देना है, उसको चुनना होता है और सुरक्षित करना होता है, और हेड मास्टर का कार्यभार उस व्यक्ति का स्थानांतरित हो जाता है। 


प्रेरणा ऐप डाउनलोड करने की डायरेक्ट लिंक नीचे दी जा रही है जहां से आप इसे डाउनलोड कर सकते हैं। 

प्रेरणा को प्रयोग करने संबंधी यूजर मैनुअल नीचे दिया जा रहा है जहां से आप डाउनलोड करके उस ऐप का प्रयोग करना सीख सकते हैं। 
प्रेरणा को प्रयोग करने संबंधी यूजर मैनुअल  Download 


किसी समस्या के लिए आप यहां पर अपने कमेंट भेज सकते हैं हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने का प्रयास करेंगे। 



Sponsored link

No comments:

Post a Comment