Government Job News Update,SSC, UPSC,UPPSC, Entrance Exam

Saturday, 21 May 2016

Leave for Government Teacher employee Primary School Teacher of UP

Leave for Government Teacher  employee Primary School Teacher of UP
Approximately more then 3 lakh Teacher are working government Primary school, Upper primary school of basic shiksha parishad. Maximum no Parishadiya shiksha are not aware about their prescribed leave during the service period that’s why they are facing regarding their leave / avkash.  Recently a RTI information was filed for knowing the information about the sanction leave of Primary Teacher of up.  BSA of Jhansi replied regarding the leave of basic shiksha parishad teachers. 
Each teacher of government Primary school, UPS,, JRT can take following leave during their service period .
List of prescribed leave for Parishadiya adhyapak  


Miscarriage leave will be sanctioned if women have less then 2 healthy bay .
No other leave will be sanction expect then above mentioned leave .

Each BEO / Block education Office / Khand shiksha adhikari can sanctioned maximum 42 day leave. more then 42 day leave will be sanction by the BSA .
Each teacher can take maximum 10 Casual leave in one time.  In case your 14 CL has been finished then further leave may be sanctioned by the BSA . Maximum 14 Cl now mentioned in any rule / regulation. if you taken CL then you will not consider Absent  and your salary will not be deducted. No holiday will be counted during the casual leve duration . 
शिक्षक - शिक्षिकाओं को अवकाश

1-अर्जित अवकाश :-
यह अवकाश प्रत्येक वर्ष 31 दिन के देय है। 1 जनवरी को 16 दिन तथा 1 जुलाई को 15 दिन दो किस्तों में देय है।
 यह अवकाश पूरे सेवा काल में 300 दिनों तक जमा किया जा सकता है। भारत में लगातार 120 दिन की तथा भारत से बाहर 180 दिनों की छुट्टी देय है।
 मूल नि.- 81-बी(1)

2-चिकित्सा अवकाश-
यह अवकाश स्थाई कार्मिकों को पूरे सेवा काल में 12 माह तक पूरे वेतन पर तथा 6 माह तक अर्ध वेतन पर देय है।
 मूल नि.-81-बी(3)

3-निजी कार्य पर, अर्ध वेतन पर अवकाश-
स्थाई कार्मिकों को यह अवकाश पूरे सेवा काल में 365 दिनों तक अर्ध वेतन पर देय है। यह अवकाश भी अर्जित अवकाश की तरह 1 जनवरी को 16 दिन तथा 1 जुलाई को 15 दिन कर्मचारी के खाते में जमा हो जाता है तथा यह अवकाश भी कर्मचारी के खाते में पुरा यानी 365 दिनों तक जमा किया जा सकता है।
 मूल नि.-81-बी(3)

4-असाधारण अवकाश ( बिना वेतन का )-
यह अवकाश अन्य अवकाश के साथ मिलाकार अथवा बिना वेतन का अवकाश अलग से 5 वर्ष तक का देय है। 5 वर्ष से अधिक शासन द्वारा स्वीकृति किया जा सकता है।
 मूल नि.-18, 81-बी(5)

5-विशेष बिकलांगता अवकाश-
यह अवकाश ड्यूटी करते समय दुर्घटना होने पर कूल 24 माह का निम्न प्रकार देय है।

1- प्रथम 6 माह पूरे वेतन पर। तथा यह 6 माह ड्यूटी मानी जायेगी।
2-119 दिन पूर्ण वेतन पर। लेकिन यह अवकाश माना जायेगा।
3-शेष 14 माह 1 दिन अर्ध वेतन पर देय है।

यह अवकाश किसी भी अन्य अवकाश से घटाया नही जायेगा।
 मूल नि.-83 तथा 83 ए
 मूल नि.-9(6) ख (4)
मूल नि.-83 क (3) (ख)

6-अध्ययन अवकाश(study leave)-
यह अवकाश पूरे सेवा काल 24 माह का अर्ध वेतन पर देय है। एक बार में लगातार 12 माह तक छुट्टी देय है। यह अवकाश भी किसी अन्य अवकाश से घटाया नही जायेगा।
 नोट-यह उन्ही कर्मचारी को मिलेगी जिनकी सेवा काल 5 वर्ष हो गई हो। तथा यह अवकाश सेवानिवृति होने के 3 वर्ष पहले तक ही मिलेगी।
 मूल नि.-84

7-राश्रीकृति अवकाश (commuted leave)-
यह अध्ययन अवकाश की तरह ही है। इसमें भारत में 45 दिन तक तथा भारत से बाहर 90 दिन तक पूरे वेतन पर देय है। लेकिन यह अवकाश निजी कार्य पर अर्ध वेतन पर जमा अवकाश में से दुगुनी घटाई जायेगी।
 मूल नि.-81(बी)-4

8-प्रसूति अवकाश (महिलाओं के लिए )-
यह अवकाश केवल महिलाओं को प्रसूति हेतू 180 दिन यानी 6 माह तक 2 बच्चों तक देय है। तथा बच्चों के पालन पोषण हेतू 730 दिन तक पूरे वेतन पर दो बच्चों तक अलग से देय है। यह 730 दिन का अवकाश बच्चों के 18 वर्ष की उम्र होने तक due रहेगी। तथा एक कलेंडर वर्ष में 3 बार देय है। लेकिन एक बार में कम से कम 15 दिन का छुट्टी लेना होगा।
 इसके अलावा गर्भ समापन अवकाश, चिकित्सा प्रमाण पत्र के आधार पर 6 सप्ताह तक पुरे वेतन पर पूरे सेवा काल में असीमित बार देय है।
 नोट- गर्भ समापन का मतलब बच्चा ख़राब होने से है।
 सहायक नि.-153
शासनादेश संख्या-2-2017, दि. 08.12.2008

9-चिकित्सालय अवकाश-
यह अवकाश उन कर्मचारियों को देय है जिनकी जान का जोखिम हो तथा सभी विभागों के सुरछा गार्डों एवं बंदी रच्छकों को देय है। यह अल्प वेतन भोगी कर्मचारियों को देय है।
 प्राथमिकी चिकित्सक की संस्तुति पर 6 माह तक देय है। जिसमे प्रथम 3 माह पूर्ण वेतन पर तथा अगला 3 माह अर्ध वेतन पर। 3 वर्ष बाद पुनः6 माह का उपरोक्तानुसार देय होगा।

10-एंटी रेबीज उपचार हेतू अवकाश-
यदि किसी कार्मचारी को पागल कुत्ता या अन्य जानवर काट ले तो उसे सरकारी चिकित्सक की संस्तुति पर पूर्ण वेतन पर अवकाश देय है। यह अवकाश किसी अन्य अवकाश से घटाया नही जाएगा। दिन की कोई सीमा तय नहीं है। डॉक्टर के द्वारा छुट्टी के दिनों की संख्या निर्धारित होगी।
 मूल नि.-9(6) (क) (3)

11-आकस्मिक अवकाश-
यह अवकाश प्रत्येक कलेंडर वर्ष में 14 दिन देय है। तथा 2-3दिन का विशेष अवकाश भी स्वीकृति किया जा सकता है। एक बार में अधिकतम 10 दिनों की छुट्टी स्वीकृति हो सकती है। यह अवकाश कर्मचारी के खाते में जमा नही होगी। हर साल छुट्टी न लेने पर बची हुई छुट्टी स्वतः ही लेप्स हो जायेगी।
 ध्यान रहे यह अवकाश लेने पर बीच में पड़ने वाले अवकाश जैसे रविवार या अन्य छुट्टी को जोड़ा नही जायेगा।
 सहायक नि.-201

Download प्रसूति कालीन अवकाश/बाल्य देखभाल अवकाश सम्बन्धी आवेदन पत्र का प्रारूप देखें : क्लिक कर डाउनलोड भी करें |
प्रसूति अवकाश से संबंधित सहायक नियम (उत्तर प्रदेश सब्सीडियरी (द्वितीय संशोधन) नियमावली,1990 )
Rule page 1 :  page 2
Download प्रसूति अवकाश की सीमा में वृद्धि तथा बाल्य देखभाल अवकाश की स्वीकृति के संबंध में शासनादेश - बेसिक शिक्षा परिषद
मानदेय पर कार्यरत महिला भी मातृत्व अवकाश की हकदार : इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच का फैसला Download page 1     Download page 2
प्रसूतिकालीन अवकाश की सीमा में वृद्धि किये जाने के संबंध में शासनादेश (दिनांक 11 मई 2010)  Download
प्रसूतिकालीन अवकाश एवं बाल्य देखभाल अवकाश के संबंध में शासनादेश (दिनांक 15 जून 2010) -  page 1     Page 2   Page 3

वित्तीय हस्तपुस्तिका : सहायक नियम, अध्याय 13, प्रसूति अवकाश page 1   page 2
चिकित्सा अवकाश एवं प्रसूति अवकाश का वेतन भुगतान किये जाने के सम्बन्ध में page 1  page 2 page 3  
प्रसूति/बाल्य देखभाल अवकाश आवेदन पत्र page 1   page 2
प्रसूति/बाल्य देखभाल अवकाश की स्वीकृति हेतु आवेदन प्रपत्र के प्रारूप संबंध में शासनादेश page 1   page 2  

all government Holidaylatest news Update of Primary Schoolall government Scheme of  UP

Sponsored link